1 0 Tag Archives: आचार्य लब्धि सूरीजी
post icon

करवुं होय ते थाय करमने

Listen to करवुं होय ते थाय करमने

राग : लख्युं होय ते थाय भविष्यमां सजनवा वैरी हो गइ हमार
भाव : कर्मसत्तानी अमाप ताकात अने ए ताकातने पडकारती धर्मसत्ता

करवुं होय ते थाय करमने करवुं होय ते थाय;
जीवे जाच्युं काम न आवे,
धार्युं निरर्थक जाय.

…करमने.१

Continue reading “करवुं होय ते थाय करमने” »

Leave a Comment
post icon

विषयकी कैसे कटे मोरी चाह

Listen to विषयकी कैसे कटे मोरी चाह

राग : गुरु बिन कौन बतावे वाट वागेश्‍वरी
भाव : विषय लगन नी चाह ने मिटाववा माटे नु दर्दभर्यु ब्यान

विषयकी कैसे कटे मोरी चाह,
करती यह फनाह.
पांच ईन्द्रियो पोषे इसको,
मन हैं ईसका नाह.

…विषयकी.१

Read the lyrics

Leave a Comment
post icon

जैन कहो क्युं होवे

Listen to जैन कहो क्युं होवे

भाव : जैनो नी परिभाषाने अने साचा जैनत्वने समजावतु वर्णन

जैन कहो क्युं होवे, परमगुरु!
जैन कहो क्युं होवे
गुरु उपदेश बिना जन मूढा,
दर्शन जैन विगोवे.

…परम.१

Read the lyrics

Leave a Comment
post icon

जनक सुता हुं नाम

Listen to जनक सुता हुं नाम

भाव : महासती सीतानो रावणने पडकार ने शील दृढता

जनक सुता हुं नाम धरावुं,
राम छे अंतर जामी;
पालव मारो मेलोने पापी,
कुळने लागे छे खामी.
अडशो मांजो, मांजो मांजो मांजो मांजो अडशो,
म्हारो नावलीयो दुहवाय,
मने संग केनो न सुहाय;
म्हारुं मन मांहेथी अकळाय.

…अ.१

Read the lyrics

Leave a Comment
post icon

श्री हीरसूरि गुरुराय

Listen to श्री हीरसूरि गुरुराय

राग : धनाश्री
भाव : जगद्गुरु हीर सूरिजी म. सा. नुं जीवन वृत्तांत

श्री हीरसूरि गुरुराय,
हमारा हीरसूरि गुरुराय
प्रणमुं प्रभावक पाय,
हमारा हीरसूरि गुरुराय

…हमारा.१

Read the lyrics

Leave a Comment
post icon

पूरण सुख शिवसद्मना

Listen to पूरण सुख शिवसद्मना

श्री श्रेयांश्नाथ जिन स्तवन
राग : परमातम पूरण कला…
Continue reading “पूरण सुख शिवसद्मना” »

Leave a Comment
post icon

सांभळजो तुमे अद्भुत वातो

Listen to सांभळजो तुमे अद्भुत वातो

भाव : ३ वर्षना बालमुनि वज्रस्वामी ने एमना जीवन नी अद्भुत कहानी

सांभळजो तुमे अद्भुत वातो,
वयर कुंवर मुनिवरनी रे;
षट् महिनाना गुरु झोळीमां,
आवे केलि करंता रे,
त्रण वरसना साधवी मुखथी,
अंग अगीयार भणंता रे.

…सां.१

Read the lyrics

Leave a Comment
post icon

मत बन विषय विलासी रे मनवा

Listen to मत बन विषय विलासी रे मनवा

राग : कित गुण भयो है उदासी बिहाग
भाव : विषय विलास = आत्म विनाश एना त्यागनी पावन प्रेरणा

मत बन विषय विलासी रे मनवा,
ए जबरी जग फांसी. रे मनवा.
हतस्त हरिण मच्छ भ्रमर पतंग,
एक एक विषयना आशी.

…रे म.१

Read the lyrics

Leave a Comment
post icon

शील सुरंगीरे सुलसा महासती

Listen to शील सुरंगीरे सुलसा महासती

राग : अरणीक मुनिवर चाल्या गोचरी
भाव : सुलसा महासतीना समकित-समता शील नी सुगंध

शील सुरंगीरे सुलसा महासती,
वर समकित गुण धारीजी;
राजगृही पूरे नाग रथिक तणी,
सुलसा नामे नारीजी.

…शी.१

Read the lyrics

Leave a Comment
post icon

मनडुं हाथन आवे हो, पद्म प्रभ!

Listen to मनडुं हाथन आवे हो, पद्म प्रभ!

श्री पद्मप्रभु जिन स्तवन
राग : मनडुं किम हि न बाजे हो कुंथुजिन…
Continue reading “मनडुं हाथन आवे हो, पद्म प्रभ!” »

Leave a Comment
Page 1 of 212